19.1 C
New Delhi
Saturday, December 3, 2022

नया संकल्प नया इरादा

spot_img

About Author

रीता राय
रीता राय
लेखिका.
पढने में समय: < 1 मिनट

इस विद्यालय में एक अनोखी सुबह हुयी।
नन्हे – नन्हे शिशुओं के मन में,
एक अनोखी उमंग जगी।

***
नन्हे – नन्हे हाथों में उनके,
पुस्तकें और कलम सजीं।
बड़ों – बड़ों ने भी अपने मन में,
एक अनोखा संकल्प लिया।
उन भोले शिशुओं ने भी एक नया संकल्प लिया।

***
हमको कुछ कर दिखाना है,
हमको आगे ही बढ़ते जाना है,
देश के भावी नागरिक हम,
हमको सद्मार्ग पर चलते जाना है।

***

अस्वीकरण: प्रस्तुत लेख, लेखक/लेखिका के निजी विचार हैं, यह आवश्यक नहीं कि संभाषण टीम इससे सहमत हो। उपयोग की गई चित्र/चित्रों की जिम्मेदारी भी लेखक/लेखिका स्वयं वहन करते/करती हैं।
Disclaimer: The opinions expressed in this article are the author’s own and do not reflect the views of the संभाषण Team. The author also bears the responsibility for the image/images used.

About Author

रीता राय
रीता राय
लेखिका.

4 COMMENTS

guest
4 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Satish
Satish
3 years ago

Heart touching thought.

अमिता
अमिता
3 years ago

सुंदर अभिव्यक्ति

Asit Rai
Asit Rai
3 years ago

बहुत सुंदर कविता।

लता राय
लता राय
3 years ago

बहुत ही अच्छी
उमंग और प्रोत्साहित करने वाली

About Author

रीता राय
रीता राय
लेखिका.

कुछ लोकप्रिय लेख

कुछ रोचक लेख

Subscribe to our Newsletter
error: